Home पुणे हफ्ता देने से मना करने पर 13 वाहनों में तोड़फोड़

हफ्ता देने से मना करने पर 13 वाहनों में तोड़फोड़

246
0
SHARE
पिंपरी  (तेज समाचार डेस्क): सब्जी विक्रेता टेम्पो चालकों ने हफ्ता देने से मना करने पर पिंपरी चिंचवड़ के वाकड स्थित म्हातोबानगर में एक गिरोह द्वारा तोड़फोड़ की गई। तोड़फोड़ के बाद इस गिरोह ने शराब पीने के लिए पैसों की मांग करते हुए एक व्यक्ति की जेब से जबरन पैसे भी निकाल लेने की जानकारी सामने आयी है। इस घटना को लेकर वाकड पुलिस ने सुरक्षा कर्मचारी समेत 5 लोगों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ फिरौती व डकैती के दो मामले दर्ज किए हैं।
शुक्रवार की सुबह सामने आयी इस घटना में 13 वाहनों में तोड़फोड़ की गई थी। इस मामले में सुरक्षा कर्मचारी किरण प्रकाश घाडगे (25), चंद्रकांत सीताराम गायकवाड (22), मयूर संजय अडागले (26), सागर प्रकाश घाडगे (27, सभी निवासी म्हातोबानगर, वाकड, पुणे), अविनाश नलावडे (निवासी आदर्शनगर, वाकड, पुणे) को गिरफ्तार किया है। तोड़फोड़ और फिरौती मामले में मारुती साहेबराव काले (30, निवासी म्हातोबानगर, वाकड, पुणे) ने शिकायत दर्ज कराई है।वाकड थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक डॉ. विवेक मुगलीकर से मिली जानकारी के अनुसार, आरोपी किरण घाडगे म्हातोबानगर के एक कमर्शियल कॉम्प्लेक्स में सिक्योरिटी गार्ड का काम करता है। इस कॉम्प्लेक्स के सामने सब्जी विक्रेता अपने टेम्पो पार्क करते हैं। गत कुछ दिन से किरण उनसे हफ्ता मांग रहा था, जिसे देने से वे मना कर रहे थे। गुरुवार की रात काले अपना टेम्पो पार्क कर दोस्तों के साथ बात कर रहे थे तब किरण ने उनके पास आकर दो हजार रुपए हफ्ता न देने पर धंधा न करने की धमकी दी।सब्जी विक्रेताओं ने हफ्ता देने से मना करने पर किरण ने अपने साथियों के साथ मिलकर काले और वहां पार्क किये गए 13 टेम्पो और दूसरे वाहनों में तोड़फोड़ की। इसके बाद ये सभी सचिन अशोक शेलार (26, निवासी म्हातोबानगर, वाकड, पुणे) के पास गए और उनसे शराब पीने के लिए पैसों की मांग की। उन्होंने मना किया तो उनकी जेब से जबरन 600 रुपये निकाल लिए। शेलार ने भी आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। इस मामले में पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर छानबीन शुरू कर दी है।
भोसरी में दो वाहनों में तोड़फोड़
वाकड के बाद भोसरी के शास्त्री चौक इलाके में भी तोड़फोड़ की घटना सामने आयी है। गुरुवार को यहां सड़क किनारे खुले मैदान में पार्क किये गए दो वाहनों में तोड़फोड़ की गई। इस घटना को लेकर भोसरी एमआईडीसी पुलिस ने अरमान देशमुख, सनी चिवे (दोनों निवासी कासारवाडी, पुणे) और उनके अन्य चार साथियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। उनके खिलाफ वैजनाथ सदाशिव आडागले (52, निवासी पारिजात कालोनी, पिंपले गुरव, पुणे) ने शुक्रवार को पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई। उन्होंने पुलिस को बताया कि उन्होंने अपना ट्रक विसावा होटल के पास खुले मैदान में पार्क किया था। उनके ट्रक और राजेश वाटकर की कार की कांच तोड़कर नुकसान पहुंचाया गया। सहायक पुलिस फौजदार केके बुढे मामले की छानबीन में जुटे हैं।