Home खानदेश समाचार मोदी सरकार की योजनाओं के सहारे आगामी चुनाव की तैयारी में जुटी...

मोदी सरकार की योजनाओं के सहारे आगामी चुनाव की तैयारी में जुटी भाजपा

501
0
SHARE

 जामनेर मे महाआवास कार्यशाला का आयोजन

जामनेर (नरेंद्र इंगले). आगामी चुनावो के मद्देनजर महाराष्ट्र मे महाविकास आघाडी सरकार की साझा ताकत का सामना करने के लिए प्रदेश भाजपा ने मोदी सरकार की योजनाओ को प्रचारित करना आरंभ कर दिया है ! जामनेर पंचायत समिति मे महाआवास अभियान कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता पूर्व मंत्री तथा भाजपा के नेता गिरीश महाजन ने की मंच पर तहसीलदार अरुण शेवाले , खंड विकास अधिकारी ज्योती कवडदेवी और संस्था सदस्य उपस्थित रहे ! अपनी हमेशा की भाषण शैली के अनुसार महाजन ने मोदी सरकार की सभी योजनाओ की तारीफ की !

वैसे मंत्री रहते महाजन ने ऐसी किसी कार्यशाला के आयोजन मे जनकल्याण को लेकर अपने विचार साझा किए होंगे यह शायद हि किसी के स्मरण मे होगा ! कार्यशाला मे महाजन ने मोदी सरकार की योजनाओ को लेकर जनता के जनता नही होने की मानसिकता पर यह कहकर नाराजगी भी जाहिर की के मोदी सरकार लोगो के लिए बहुत कुछ कर रही है लेकिन इन योजनाओ को सफल बनाने के लिए जनता का व्यापक सहयोग नही मिलता महाजन ने यह बात स्वच्छ भारत अभियान को लेकर कहि !

वैसे महाजन अगर जरासी नाराजगी नही जताते तो कल के अखबारो मे सुर्खियां कैसे छपती और मीडिया अपने पाठको को टेबल न्यूज नही परोस सकता ! पूर्व मंत्री ने तहसिल के सभी गांवो मे सड़क , पानी , बिजली , स्वास्थ , शिक्षा जैसी बुनियादी चीजे पहुचाने पर जोर दिया ! वैसे किसी भी तहसिल क्षेत्र के 150 गांवो के बुनियादी ढांचे को पूर्णरूप से विकसित करने के लिए 25 बरस तक का लंबा समय काफी होता है ! महाजन 1995 से अब तक क्षेत्र के विधायक है , फडणवीस सरकार मे जलशक्ति विभाग के कैबिनेट मंत्री रह चुके है ! जामनेर तहसिल की स्थिती बिलकूल वैसी है जैसे 1990 के दशक मे थी , ग्रामीण इलाको मे करोड़ो रुपया खर्च कर काम बहुत हुए पर आज तक कोई गांव वास्तविक रूप से स्मार्ट विलेज नही बन सका !

आज तहसिल के 74 गांवो के जलापूर्ति योजनाओ मे भ्रष्टाचार का मामला गर्म है जिसकी जांच बीते 2 सालो से चल रही है ! खैर केंद्र और राज्य सरकार के बीच प्रतिदिन तनाव की स्थिती बनती जा रही है जिसका कारण जनता जानती है ! राज्य सरकार ने EOW के रूप मे केंद्रीय जांच एजेंसियो का काट खोज लिया है ! ऐसे मे प्रदेश भाजपा के पास एकमात्र विकल्प यह बचता है कि वह मोदी सरकार की योजनाओ को निज थियरी ( एक ऐसी प्रणाली जिसमे किसी बात के प्रचार पर खास तवज्जो दिया जाता है ) के तहत जनता के बीच पहुचाए और आगामी चुनावो मे पार्टी का बिगड़ता प्रदर्शन सुधारे !