Home दुनिया लोकप्रियता में जो बाइडन से आगे निकले डोनाल्ड ट्रम्प

लोकप्रियता में जो बाइडन से आगे निकले डोनाल्ड ट्रम्प

74
0
SHARE
नई दिल्ली (तेज समाचार डेस्क). Capitol Hill में हुए दंगों के बाद अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पर लोकतंत्र की हत्या करने के आरोप लगाने वाले Democrats अब उनके सामने हार मानते दिखाई दे रहे हैं. हिंसा के बाद सभी Democrats एक सुर में ट्रम्प के खिलाफ महाभियोग लाने की बात कर रहे थे, लेकिन अब धीरे-धीरे बाइडन समेत सभी Democrats इस मुद्दे पर ठंडे पड़ते दिखाई दे रहे हैं. Business Standard की रिपोर्ट के मुताबिक अब खुद जो बाइडन ने अपने Democrat साथियों से अपील की है कि वे ट्रम्प के खिलाफ महाभियोग की प्रक्रिया को ज़्यादा तवज्जो ना दें. White House के अधिकारियों के मुताबिक बाइडन ने अपने आप को महाभियोग की प्रक्रिया से भी दूर कर लिया है.
White House के एक अधिकारी के मुताबिक “वह अब सब Senate पर छोड़ चुके हैं। जो Senate को करना होगा, वो करेंगे, लेकिन बाइडन इस प्रक्रिया से अपने आप को दूर कर चुके हैं”। बाइडन को डर है कि अगर ट्रम्प के खिलाफ महाभियोग की प्रक्रिया पर ज़रूरत से ज़्यादा ध्यान दिया गया तो इससे बाइडन के शुरुआती दिनों का एजेंडा खराब हो सकता है। बता दें कि capitol hill की हिंसा के बाद बाइडन के सभी नजदीकी ट्रम्प के खिलाफ महाभियोग लाने को लेकर काफी उत्साहित थे। पूर्व कांग्रेसमैन और बाइडन के सलाहकार Cedric Richmond ने तुरंत ट्रम्प के खिलाफ कार्रवाई करने की अपील की थी। हालांकि, अब उन्हें बाइडन से फटकार लगी है। इसका एक कारण यह भी हो सकता है कि बाइडन अब अपने कदमों से ट्रम्प के समर्थकों को भड़काना नहीं चाहते! उन्हें पता है कि अगर ऐसे वक्त में ट्रम्प के समर्थक खुलकर बाइडन प्रशासन के खिलाफ सड़कों पर उतर जाते हैं, तो उनके लिए लोगों के गुस्से को संभालना काफी मुश्किल हो जाएगा!
बाइडन से पहले और भी कई Republicans खुलकर ट्रम्प के सहयोगियों का बचाव कर चुके हैं। हाल ही में Democrat सांसद Dianne Feinstein ने खुलकर ऐसे Republican सांसदों का बचाव किया था, जिन्होंने चुनावों में बड़े पैमाने पर धांधली होने के विचार को आगे बढ़ाया था। टेक्सास से सांसद Ted Cruz और मिसूरी से सांसद Josh Hawley खुलकर Electoral College के फैसले का विरोध कर रहे थे, जिसके बाद Democrats इन दोनों के खिलाफ़ कड़ी कार्रवाई करने की मांग कर रहे थे। Capitol Hill में हुए दंगों के लिए भी Democrats इन दोनों को ही निशाना बना रहे थे। हालांकि, Feinstein का बयान सुनकर उन्हीं की पार्टी के सांसद दंग रह गए! Feinstein ने बयान दिया था “सीनेट आज़ादी को महसूस करने की जगह है। लोग यहाँ वो सब ही बोलने के लिए आते हैं, जैसे वे सोचते हैं। यही देश को नेतृत्व प्रदान करता है। कुछ मामलों में इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ता है, तो कुछ में नकारात्मक। निर्भर करता है कि कौन इसे किस नज़रिये से देखता है। ऐसी बातों पर चर्चा करने के लिए यह जगह बेहद महत्वपूर्ण है।”
शायद अब Democrats को अहसास हो रहा है कि Capitol Hill में हुई हिंसा के लिए ट्रम्प को लगातार निशाने पर लेना Democrat के आगामी चार सालों के शासन के लिए घातक साबित हो सकता है। Democrats अब Big Tech के ट्रम्प-विरोधी अभियान और लेफ्ट मीडिया के एजेंडे के बावजूद ट्रम्प की ताकत को कम आँकने की गलती नहीं करना चाहते हैं। ट्रम्प को अब भी अमेरिका के करोड़ों लोगों द्वारा पसंद किया जाता है और Democrats को डर है कि ट्रम्प अब अपने बल पर ही अमेरिका में एक नई राजनीतिक क्रांति की शुरुआत कर सकते हैं। ट्रम्प पहले ही अपनी राजनीतिक पार्टी “Patriot Party” को लॉन्च करने की घोषणा कर चुके हैं। वे अब लोगों के गुस्से को एक राजनीतिक मंच प्रदान करने जा रहे हैं। ट्रम्प की इस रणनीति से ही Democrats घबराए हुए हैं और वे अब ट्रम्प पर नर्म पड़ने को मजबूर हुए हैं।