Home प्रदेश मध्यप्रदेश : चुनाव के ठीक पहले लोसपा के भाजपा में विलय से...

मध्यप्रदेश : चुनाव के ठीक पहले लोसपा के भाजपा में विलय से बढ़ी शिवराज सिंह चौहान की ताकत

161
0
SHARE
भोपाल (तेज समाचार डेस्क). मध्य प्रदेश की 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में दिलचस्प सियासी रंग देखने को मिल रहे हैं. अब तक नेता दल बदल कर एक दूसरे को झटका दे रहे थे. अब एक पूरी की पूरी पार्टी ही भाजपा से मिल गई है. रविवार को लोक समता पार्टी का विलय भारतीय जनता पार्टी में हो गया. मुख्यमंत्री निवास में आयोजित कार्यक्रम में लोक समता पार्टी का विलय भारतीय जनता पार्टी में हो गया.
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को भाजपा की सदस्यता दिलाई. सदस्यता ग्रहण समारोह में प्रदेश सरकार के मंत्री भारत सिंह कुशवाहा उपस्थित थे. इस दौरान सीएम शिवराज ने कहा कि मुख्यमंत्री रहते हुए मैंने गरीबों और किसानों की ही चिंता की है. संबल योजना, राहत की राशि, फसल बीमा योजना का लाभ, अनाज आपूर्ति जैसे अनेक निर्णय हमने गरीबों के हित में लिए. आखिर सरकार गरीबों की ही तो है. हमारा और लोक समता पार्टी का लक्ष्य एक ही है – जनता की भलाई. जब लक्ष्य एक है तो रास्ता भी एक होना चाहिए इसलिए हमें साथ में मिलकर काम करना चाहिए. हम मिलकर जनता की सेवा करेंगे.
शिवराज ने कहा मैं सभी को वचन देता हूँ कि उनका मान-सम्मान और उनकी शान किसी भी हालत में कम नहीं होने दूंगा. मैं लोक समता पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों का भाजपा परिवार में स्वागत करता हूँ. जिस लक्ष्य के साथ लोक समता पार्टी के संस्थापकों ने पार्टी का गठन किया था, हम उस लक्ष्य की प्राप्ति साथ मिलकर करेंगे.