Home जलगाँव मुंबई-पुणे एक्सप्रेस वे पर दुष्कर्म का आरोपी जलगांव से गिरफ्तार

मुंबई-पुणे एक्सप्रेस वे पर दुष्कर्म का आरोपी जलगांव से गिरफ्तार

498
0
SHARE
पुणे (तेज समाचार डेस्क). कोयते से धमकाकर घरेलू सहायिका के रूप में काम करनेवाली एक युवती से दुष्कर्म करने की पुणे- मुंबई एक्सप्रेस वे पर किवले के पास हुई वारदात को पिंपरी चिंचवड़ की तलेगांव दाभाड़े पुलिस ने सुलझा लिया है. वारदात के बाद नागपुर भाग रहे आरोपी ट्रक ड्राइवर काे तलेगांव दाभाड़े पुलिस ने जलगांव से गिरफ्तार किया. 4 अगस्त काे दिनदहाड़े दाेपहर 3 बजे एक्सप्रेस वे पर गहूंजे गांव के ब्रिज के नीचे यह घटना घटी थी.

– पेशे से ट्रक चालक है आरोपी
गिरफ्तार ट्रक चालक का नाम करमवीर गुलाबराम जैसवार (30, मानकाेली फाटा, दिवागांव, तहसील भिवंडी, जिला ठाणे, मूल निवासी बिसनपुर, तहसील किराकत, जिला जाैनपुर, उत्तर प्रदेश) है. जलगांव से हिरासत में लेकर पिंपरी चिंचवड़ लाने के बाद उसे अदालत में पेश किया गया जहां उसे 25 अगस्त तक पुलिस कस्टडी में भेजने का आदेश दिया गया. आराेपी ने साेचा था कि लाेकलाज के कारण यह मामला पुलिस तक नहीं पहुंचेगाऔर वह बचकर निकल जायेगा, लेकिन तलेगांव पुलिस ने जलगांव तक पीछा कर उसे सलाखाें के पीछे पहुंचाकर साबित कर दिया कि कानून के हाथ लंबे हाेते हैं.

– कोयते से धमका कर किया गया था रेप
तलेगांव दाभाड़े पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक अमरनाथ वाघमोड़े ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि, 4 अगस्त की दोपहर तीन बजे के करीब एक युवती पुणे-मुंबई एक्सप्रेस-वे पर किवले के पास गहुंजे ब्रिज पर से जा रही थी. उसे अकेला देखकर ट्रक चालक करमवीर ने काेयते से धमकाते हुए वह उस पर झपट पड़ा. उसने कोयते से पीड़िता के कपड़े भी फाड़ दिये और उसके साथ दुष्कर्म किया. इस बारे में तलेगांव दाभाड़े पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया. चूंकि आराेपी के बारे में काेई जानकारी नहीं थी, इसलिए पुलिस ने शुरुआत में पास की एक कंस्ट्र्नशन साइट पर काम करने वालाें, अन्य राज्याें से आये मजदूराें तथा शातिर अपराधियाें की जानकारी जुटाई, लेकिन काेई सुराग नहीं मिला.

– नागपुर भागने की फिराक में था आरोपी दुष्कर्मी
इसके बाद तलेगांव पुलिस ने स्मार्ट तरीके से मामले की जांच शुरू की. वारदात के समय किवले फ्लाईओवर से गुजर चुके 30-32 ट्रकाें की जानकारी लेने के बाद उनमें से एक ट्रक ड्राइवर का हुलिया पीड़ित लड़की द्वारा बताई गई जानकारी के अनुसार निकला. पुलिस ने उस ट्रक की जानकारी हासिल कर संबंधित ट्रक के मालिक से पूछताछ की तो पता चला उसने हाल ही में काम छाेड़ दिया है और वह दूसरी कंपनी के ट्रक पर काम कर रहा है. पुलिस ने दूसरी कंपनी के ट्रक मालिक से संपर्क कर आराेपी की पूरी जानकारी हासिल की, तब करमवीर के नागपुर की ओर जाने की जानकारी मिली. इसके बाद जलगांव जिले की मुक्ताईनगर पुलिस स्टेशन की सीमा से उसे दबाेच लिया गया. पूछताछ में करमवीर ने अपना अपराध कबूल लिया. इस कार्रवाई को पुलिस निरीक्षक शहाजी पवार, सहायक पुलिस निरीक्षक कुंदा गावड़े, पुलिसकर्मी अतीश जाधव, सतीश मिसाल, राम बहिरट आदि की टीम ने अंजाम दिया.