Home प्रदेश पुणे में ऑनर किलिंग : बेटी को भगा ले जानेवाले की पीट...

पुणे में ऑनर किलिंग : बेटी को भगा ले जानेवाले की पीट पीट कर हत्या

276
0
SHARE
सांकेतिक फौटो
पिंपरी (तेज समाचार डेस्क)। पुणे जिले के खेड़ तहसील के चाकण इलाके करंजविहिरे के एक होटल में दोहरे हत्याकांड से समस्त जिला दहल उठा है। खेड़ तालुका के चाकण में प्रेम प्रकरण में एक युवक और उसके दोस्त की पीट पीट कर हत्या कर दी गई। मृतकों में बालू सीताराम गावड़े (32) और राहुल दत्तात्रय गावड़े (20, दोनों निवासी आसखेड खुर्द, खेड, पुणे) का समावेश है। इस घटना में एक 21 वर्षीय लड़की गंभीर रूप से घायल है। इस मामले ने लड़की के पिता और बालू गावड़े की पत्नी समेत 9 लोगों को पुलिस ने वारदात के 4 घन्टे के भीतर गिरफ्तार कर लिया है।
यह है मामला
चाकण पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, बालू गावड़े विवाहित है और एक ईंटभट्टे पर काम करता था। इस ईंटभट्टे के पास उसी मालिक मानुसकी नामक होटल है। शादीशुदा रहने के बाद भी बालू गावड़े होटल मालिक बालू मरगज की बेटी से प्यार कर बैठ। इसके बाद 14 जुलाई को दोनों घर से भाग गए। इस काम में राहुल ने उनकी मदद की और उन्हें दोपहिया से खोपोली में छोड़ा। बेटी के भागने का पता चलने के बाद होटल के मालिक ने अपने सहयोगियों की मदद से उनकी खोजबीन शुरू की। विशेष बात यह है कि राहुल भी उनके साथ दोनों की खोजबीन में जुटा रहा। गुरुवार को दोनों का पता लगने के बाद होटल मालिक ने अपने साथियों की मदद से दोनों को अपने होटल में लाया। तब राहुल के उनके साथ मिले रहने की बात सामने आई।
रॉड गरम कर झुलसाया
इसके बाद दोनों लड़कों की जमकर पिटाई की। दोनों युवकों के साथ डंडे, रॉड से मारपीट की गई था। रॉड गरम कर उन्हें झुलसाया गया। इससे गंभीर रूप से जख्मी दोनों युवकों की मौत हो गई। इस घटना में बालू गावड़े के साथ फरार हुई होटल मालिक की बेटी के साथ भी मारपीट की गई है, वह भी इस घटना में गंभीर रूप से घायल हुई है। दोनों लड़कों को मृत देखकर होटल मालिक ने पुलिस को उसके होटल में दो लोगों के शव पड़े रहने की जानकारी दी। इस घटना के बाद खेड़ तालुका समेत समस्त पुणे जिले में खलबली मच गई। पिंपरी चिंचवड़ पुलिस मामले की गंभीरता को देखकर तुरंत हरकत में आयी। इस मामले के सामने आने के 4 घन्टे के भीतर होटल मालिक और मृत बालू गावड़े की पत्नी समेत नौ लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
9 लोग गिरफ्तार
गिरफ्तार आरोपियों में अनिल संभाजी कडाले, राजू साहेबराव गावडे, किरण बालू मेंगाल, चन्द्रकला उर्फ मुक्ता बालू गावडे, आनंदा सिताराम जाधव, बालू उर्फ अप्पा नामदेव मरगज, प्रसाद बालू मरगज, ललिता बालू मरगज, अभिषेक बालू मरगज शामिल हैं। उनके खिलाफ हत्या समेत विभिन्न धाराओं के साथ ही एट्रोसिटी के तहत मामला दर्ज कर गया है। इस मामले में राहुल गावड़े के पिता दत्तात्रय दशरथ गावड़े (40) ने शिकायत दर्ज कराई है। जब बालू मरगज ने पुलिस को घटना की जानकारी दी तब उस पर शक हुआ। गहराई से पूछताछ करने पर इस भीषण वारदात का खुलासा हुआ। इस कार्रवाई को चाकण पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक अशोक राजपूत, पुलिस निरीक्षक (क्राइम) अनिल देवड़े, सहायक निरीक्षक विक्रम गायकवाड़, उपनिरीक्षक विक्रम जगदाले, विकास पंचमुख, सहायक फौजदार आदिनाथ नागणे, संजय घाडगे, कर्मचारी हनुमंत कांबले, मनोज साबले, अशोक दिवटे, उद्धव गर्जे, प्रदीप राले ने अंजाम दिया। सहायक पुलिस आयुक्त प्रेरणा कट्टे मामले की जांच कर रही हैं।